How to write answers in Exam

परीक्षा में उत्तर कैसे दें ?

Hello दोस्तों ज्ञान उदय में आपका स्वागत है । आज हम आपको बताते हैं कि किस तरह से B.A., M.A. के Exams में Questions का Answers कैसे लिखें ।

अगर आप लोग बी.ए/ एम. ए. में हैं या आपने 12th Class पास की है तो यह Post आपके लिए हैं और इसको आखिर तक पूरा पढ़ें । जैसा कि आप सभी जानते हैं कि BA के पेपर में हर Question 20 नम्बर का होता है तो यहां ध्यान देने योग्य बात ये है कि !!

आपने कभी यह सोचा है कि हमें 20 नंबर मिलते कैसे हैं ? आखिर क्या लिखें कि हमें 20 नंबर मिले ?

तो आज की इस Post में हम जानेंगे कि हमें 20 नम्बर कैसे मिलते हैं ? सबसे पहले जो हमारा जो Basic Question है, उसको ध्यान से समझना है कि Question में क्या पूंछा गया है । फिर बात आती है कि उसका जो हमें Answer देना है तो हमें ऐसा क्या लिखना चाहिए, जिससे हमारे ज़्यादा से ज़्यादा नम्बर आ सकें ?

सबसे पहले ध्यान रखें कि Question का Answer देने के लिए उसे पांच भागों में बांटा जाता है । जो कि इस तरह हैं ।

1 भूमिका या प्रस्तावना (Preface)

2 परिभाषा (Definition)

3 प्रश्न का उत्तर (Basic answer)

4 आलोचना या पक्ष – विपक्ष (Criticism Or Pros Cons)

5 निष्कर्ष यानी (Conclusion)

इसलिए आपको Question का जो Answer देना है, वह आप को पांच भागों में ही देना होता है । जैसा कि आपने 12वीं कक्षा में देखा था कि 5 या 6 नंबर का सवाल है । आपने 5 से 6 Points लिख दिए तो आपको पांच या छः नंबर मिल गए । लेकिन बी.ए. और एम. ए. में ऐसा बिल्कुल नहीं होता । यहां पर क्या होता है कि 20 नंबर का Question है तो आपको समझना है कि उस Question का जवाब आपको इस तरह से देना है कि आप को पूरे 20 के 20 नंबर मिले ।

तो हमेशा ध्यान रखें कि आप जब भी कोई सवाल का जवाब देते हैं तो वहां पर आपको Passage नहीं छापना है यानी ऐसा नहीं की Question देखते ही आप बस लिखते ही जाएं बिना कोई Points बनाये । हमेशा आपको Question के हिसाब से Answer को Points में ही देना है और आपका Answer पांच भागों में बटा होता है ।

हालांकि College में आने के बाद ये बातें आपको किताबों में नहीं मिलेगी और यह बात आपको कभी भी कहीं से भी नहीं मालूम पड़ेगी । इसलिए मैं आपको यह बात बताना चाहता हूं । सबसे पहले आपको पांच भागों में करना क्या है या कैसे करना है ।

1 सबसे पहले आपको उस Question की भूमिका लिखनी है या प्रस्तावना चाहे कोई भी Question उसका सार यानी Fundamental/ Background आपको बताना है ।

2 दूसरे पर आती है उस Question से संबंधित परिभाषा और इस Part में दो तीन विचारकों के विचार बताइये ।

3 तीसरे पर आता है उस Question का मुख्य उत्तर जो उस Question में पूछा जा रहा है । उसका हमें उत्तर देना है और ।

4 चौथा में उस Question की आलोचना, पक्ष या विपक्ष के बारे में बताना हैं, जो उस Question के बारे में पूछा जा रहा है । और आखरी में ।

5 पांचवे नम्बर पे आपको उस Question का निष्कर्ष बताना है, यानी Conclusion ऐसा हो जिससे Question का महत्व बना रहे यानी Question से सम्बंधित हो ।

तो यह हमारे पांच महत्वपूर्ण भाग होते हैं, जो किसी Question के answer को देने के लिए होते हैं । तो दोस्तों अगर आप Exam में Answer sheet में इस तरह से लिख दें । अगर आपको answer ठीक से याद भी नहीं है तो इससे मिलता जुलता भी लिख दें तो आपको लगभग ठीक ठाक नंबर मिल जाएंगे ।  

आपको अगर इन पांच भागों की जानकारी होगी तो आप अपने Exam की तैयारी भी उसी तरीके से ही करेंगे और Question का Answer भी वैसे ही देंगे ।

सबसे महत्वपूर्ण है कि आप लोगों को हमेशा Points में ही लिखना हैं क्योंकि Examiner/ paper को चेक करने वाला teacher इन्ही Points पर Focus करता है । इसके अलावा बड़ी बड़ी परीक्षाओं में जैसे IAS ऑफिसर भी अपने Questions के Answers हमेशा Points में ही देते हैं । Paper checking में सिर्फ Points पर ही ध्यान दिया जाता है ।

अगली महत्वपूर्ण बात है कि आप लोगों को हमेशा पेपर में Heading और Detail के बीच ज्यादा से ज्यादा Gap देना है । Answer में points में दो शब्दों के बीच में Gap रखना है और लाइन छोड़नी है । जब भी आप पेपर का एक भाग करें यानी कि एक भूमिका लिखते हैं तो भूमिका पूरी होने के बाद दो या तीन लाइने छोड़ें । उसके बाद आप प्रस्तावना लिखें दो या तीन लाइने छोड़ें । इसी तरीके से आगे के भागों में भी आप दो या तीन लाइने अपने पेपर में जरूर छोड़ें ।

Click here to know कॉलेज में परीक्षा कैसे दें ?

इसका कारण यह है कि जो आपने Answer लिखा है वह थोड़ा सा lengthy तो दिखेगा ही और आपकी लिखावट भी साफ-साफ आएगी और दूसरा यह भी अगर मान लो कि आप कुछ महत्वपूर्ण बात लिखना भूल गए तो बीच में जो line gap है  बाद में उस जगह लिख सकते हो जो महत्वपूर्ण है । इसी तरह परिभाषा लिखने के लिए दो से तीन विचारकों की परिभाषा भी आपको लिखनी चाहिए । जिससे की पेपर Check करने वाले Examiner को यह ज्ञात हो जाए कि आप एक अच्छे विद्यार्थी हो । इन विचारकों के विचार हमेशा आप Inverted Comma’s (” “) के अंदर ही लिखे । फिर आपको इस प्रश्न की आलोचना, पक्ष और विपक्ष भी लिखना है । आलोचना पूछा है तो आलोचना बताना है ।  और सबसे आखिरी में हमें निष्कर्ष लिखना चाहिए । कभी-कभी हमें पता नहीं होता कि निष्कर्ष में क्या लिखें तो जो हमने शुरू में लिखा था, आप उस में ही थोड़ा सा Changes करके या फिर Question के हिसाब से आप निष्कर्ष भी दे सकते हो ।

तो दोस्तों यह था आपके B. A. , M.A. में Question के Answers कैसे दे (How to write answers in Exam) । जो कि आपके लिए बहुत ही आवश्यक है । अगर आपको यह Post अच्छी लगे तो आप अपने दोस्तों के साथ शेयर करें तब तक के लिए धन्यवाद !!

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Close Menu
error: Sorry you can\\\\\\\\\\\\\\\'t copy
%d bloggers like this: